Home Crime ऑनलाइन टिकट बुक कर हैकरों ने परिवहन निगम के 10 लाख रुपये...

ऑनलाइन टिकट बुक कर हैकरों ने परिवहन निगम के 10 लाख रुपये हड़पे, मॉनिटरिंग की पोल खुली

201
0
तीन हैकरों ने परिवहन निगम की वेबसाइट हैक करके अलग-अलग आईडी से एसी बसों के 500 टिकट ऑनलाइन बुक कर किराये की रकम हड़प ली। परिवहन निगम की लेखा विंग ने इसका खुलासा किया है। वहीं ऑनलाइन बुक हुए टिकट की मॉनिटरिंग करने वाले अफसर की भी पोल खुली है।

अपर प्रबंध निदेशक बीआरडी तिवारी ने बस टिकट बुकिंग घोटाले की जांच के लिए ऑडिट विंग की पांच सदस्यीय कमेटी गठित की थी। कमेटी ने कुछ महीने के ऑनलाइन बुक टिकट और परिवहन निगम के खाते में ट्रांसफर किराए की रकम की जांच की तो पाया कि लगभग 500 ऐसे बस टिकट बुक हुए जिनका किराया परिवहन निगम को नहीं चुकाया गया।

ये टिकट तीन हैकरों ने बुक किए थे। इनमें सर्वाधिक टिकट लखनऊ से दिल्ली के हैं। ऑडिट टीम के एक अधिकारी ने बताया कि हैकर ने 500 टिकट बनाकर परिवहन निगम को करीब 10 लाख रुपये की चपत लगाई है। टीम सोमवार को प्रबंध निदेशक पी. गुरु प्रसाद को जांच रिपोर्ट पेश करेगी।

गौरतलब है कि दो जुलाई को एक व्यक्ति ने प्रबंध निदेशक को जानकारी दी थी कि उसने ऑनलाइन टिकट बुक कराया। टिकट बनने के बाद उसके बैंक खाते से रकम नहीं कटी। इसके बाद पहले चरण की जांच में 51 केस पाए गए जिनमें से 24 बस टिकट की रकम पांच जुलाई को खातेे में आ गई है। वहीं, एचडीएफसी गेटवे की टीम मुंबई में सिस्टम की जांच कर रही है।

आईडी के जरिये पकड़े जाएंगे हैकर

परिवहन निगम की वेबसाइट हैक करने वाले आईडी के जरिये पकड़े जाएंगे। हैकर का पता मोबाइल नंबर से चलेगा जिसके जरिये टिकट बुक किया गया। परिवहन निगम मोबाइल कंपनियों से सिम नंबर के मालिक का विवरण हासिल करने के बाद आगे की कार्रवाई करेगा।

शक के दायरे में ट्राईमेक्स ऑपरेटर
परिवहन निगम की वेबसाइट हैक करके सॉफ्टवेयर में सेंधमारी करने के शक के दायरे में आईटी कंपनी ट्राईमेक्स के ऑपरेटर आ गए हैं। ऑडिट टीम को आशंका है कि इन ऑपरेटरों के पीछे मास्टर माइंड कोई दूसरा है। यह आईटी एक्सपर्ट और निगम को चूना लगाने वाले सिंडीकेट का सदस्य हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here